April 14, 2024

भोपाल में 23 मार्च से फिर बदलेगा मौसम, इंदौर समेत मालवा-निमाड़ में भी हुई बारिश

भोपाल- मध्यप्रदेश के कई जिलों में सोमवार को भी ओलावृष्टि और बारिश हुई। छतरपुर के बड़ामलहरा, राजगढ़ और सागर में जमकर ओले गिरे। सागर में तो खेतों और सड़क पर सफेद चादर जैसी बिछ गई। मुरैना के अंबाह में बिजली गिरने से युवक की मौत हो गई। पति-पत्नी झुलस गए। रायसेन में औबेदुल्लागंज जोड़ के पास राजेश राय की बिजली गिरने से मौत हो गई।

इंदौर समेत मालवा-निमाड़ में भी बारिश हुई । भोपाल में देर रात पानी गिरा। रायसेन जिले में रात 2.30 बजे तेज बारिश के साथ चने के बराबर ओले गिरे। पिछले 24 घंटे में छतरपुर के गौरिहार में 2.12 इंच तक पानी गिरा। अशोकनगर के ईसागढ़ में 1.61 इंच बारिश हुई।

सीधी में मंगलवार को बेमौसम बारिश का दौर लगातार दूसरे दिन जारी रहा। चुरहट क्षेत्र के डढ़िया गांव में तेज बारिश के साथ जमकर ओले गिरे। यहां करीब 1 घंटे तक बारिश के साथ ओला वृष्टि होती रही। किसानों का कहना है कि पहले ही हुई बारिश से फसल खराब हो चुकी है, और जो बची हुई है उसे ओलावृष्टि ने बर्बाद कर दिया।

23-24 मार्च से फिर नया सिस्टम एक्टिव

मध्यप्रदेश में वेदर डिस्टर्बेंस की वजह से 23-24 मार्च को फिर एक सिस्टम एक्टिव हो रहा है। इसका असर ग्वालियर-चंबल संभाग में देखने को मिलेगा। भोपाल, इंदौर, जबलपुर, उज्जैन समेत प्रदेश के कई शहरों में हल्की बूंदाबांदी भी हो सकती है। इधर, मौजूदा सिस्टम से मंगलवार को भी कई शहरों में हल्की बूंदाबांदी होने की संभावना है। हालांकि, ज्यादातर शहरों में मौसम साफ रहेगा।

इन जिलों में बारिश होने के आसार
मौसम विभाग की मानें, तो 23-24 मार्च को भोपाल, नर्मदापुरम, बैतूल, अशोकनगर, शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया, भिंड, मुरैना, श्योपुरकलां, सिंगरौली, सीधी, रीवा, सतना, अनूपपुर, जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला, बालाघाट, छतरपुर, टीकमगढ़ और निवाड़ी में मौसम बदला रहेगा। तेज हवा के साथ हल्की बारिश होने के भी आसार हैं।

About Author