April 21, 2024

भोपाल में कांग्रेस की कैंडल लाइट प्रेस कॉन्फ्रेंस

भोपाल – कांग्रेस ने स्कूल शिक्षा विभाग में वाहन बिल घोटाले का आरोप लगाया है। पार्टी नेताओं ने कहा, ‘तत्कालीन विभागीय मंत्री इंदर सिंह परमार के स्टाफ के लिए इस्तेमाल 6 वाहनों के बिल में फर्जीवाड़ा किया गया। एक वाहन के लिए 13 महीने में 8,62,236 रुपए का भुगतान हुआ। राज्य शिक्षा केंद्र में इस गाड़ी का नाम मारुति सियाज और रजिस्ट्रेशन नंबर MP04-CW-9950 दर्ज है। परिवहन विभाग से पता करने पर यह रजिस्ट्रेशन नंबर हुंडई क्रेटा को अलॉट मिला। यही नहीं, मंत्री के नाम पर आवंटित एक अन्य वाहन को 11 महीने में कुल 17,92,133 रुपए का भुगतान किया गया।’
कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष केके मिश्रा ने बुधवार को PCC में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इसमें विभाग-प्रकोष्ठों के प्रभारी जेपी धनोपिया और आरटीआई प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष पुनीत टंडन भी शामिल रहे। खास बात यह रही कि इन नेताओं ने बिजली न होने पर मोमबत्ती की रोशनी में अपनी बार रखी।

RTO में RTI लगाकर निकाली जानकारी

कांग्रेस नेता पुनीत टंडन ने कहा कि उन्होंने वाहनों की जानकारी राज्य शिक्षा केंद्र और परिवहन विभाग (RTO) से सूचना का अधिकार (RTI) के तहत हासिल की है। इसमें 6 वाहनों के नाम पर विसंगतियां मिली हैं।

केस 1: स्कूल शिक्षा मंत्री के स्टाफ को उपलब्ध कराए गए वाहन MP04-ZK-4477 को राज्य शिक्षा केंद्र ने अपने रिकॉर्ड में मारुति सियाज दर्ज किया है। परिवहन विभाग से RTI में मांगी गई जानकारी में बताया गया कि यह वाहन परिवहन विभाग में रजिस्टर्ड ही नहीं है। इसके किराए के तौर पर एक जून 2023 से 30 जून 2023 तक 64,352 रुपए का भुगतान किया गया।

केस 2: MP04-CA-9529 नंबर का वाहन राज्य शिक्षा केंद्र में प्रशासन कक्ष को आवंटित है। इसके मालिक को 6 माह में 2,25,057 रुपए का भुगतान किया गया। कांग्रेस ने आपत्ति दर्ज कराई है कि यह वाहन मारुति स्विफ्ट डिजायर बताया गया जबकि परिवहन विभाग में यह मारुति 800 नाम से दर्ज है।

केस 3: विभाग ने MP04-CW-9950 के बिल में गाड़ी का नाम मारुति सियाज दर्ज किया है। परिवहन विभाग में यह वाहन हुंडई कंपनी की क्रेटा कार बताया गया। इस वाहन का बिल 13 महीने के लिए 8,62,236 रुपए चुकाया गया।

केस 4: स्कूल शिक्षा मंत्री के नाम पर आवंटित इनोवा क्रिस्टा नंबर MP04-BC-7755 को 11 महीने में कुल 17,92,133 रुपए का भुगतान किया गया। अनुबंध के अनुसार, इस गाड़ी के लिए 75,000 रुपए प्रतिमाह किराया और अतिरिक्त चलने पर 18.50 रुपए प्रति किलोमीटर की दर से भुगतान किया गया।

केस 5: मंत्री के स्टाफ में अटैच एक अन्य वाहन MP04-BC-7480 नंबर की इनोवा क्रिस्टा दर्ज है। इसकी भी परिवहन विभाग में पड़ताल की गई तो यह स्कॉर्पियो निकली। इस वाहन का 1 अप्रैल 2023 से 30 अप्रैल 2023 तक एक माह का किराया 1,80,628 रुपए चुकाया गया।

केस 6: स्कूल शिक्षा मंत्री के नाम पर एक अन्य आवंटित वाहन इनोवा क्रिस्टा क्रमांक MP04-ZH-5566 के लिए 2 महीने की राशि 3,92,076 रुपए भुगतान की गई। यह वाहन परिवहन विभाग में प्राइवेट कोटे पर दर्ज है।

About Author