November 29, 2022

मेनिट कॉलेज कैंपस में घुसे बाघ का अब तक पता नहीं, प्रशासन की अपील- बेवजह बाहर न घूमे छात्र

नई दिल्ली- मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के रिहायशी इलाको में हड़कंप मचा हुआ है. दरअसल, स्थानीय लोगों और राहगीरों ने बाघ के कुछ वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए. ये जानकारी सामने आने के बाद भोपाल जिला वन अधिकारी डीएफओ आलोक पाठक ने शहर के लोगों को अलर्ट रहने के निर्देश जारी कर दिए. दूसरी तरफ वन विभाग की टीम मॉनिटरिंग करने में जुटी हुई है. भोपाल शहर के आसपास के जंगलों से अब बाघ शहर की ओर बढ़ रहे हैं. कलियासोत. केरवा डैम बाल्मी पहाड़ी के जंगल में चार युवा बाघों की मौजूदगी मिली है.

वन विभाग नहीं करेगा रेस्क्यू
बताया जा रहा है कि यह सभी बाघिन टीआर 123 की संतान हैं. इसकी उम्र 4 वर्ष है. वह पिछले हफ्ते 13 सीटर क्षेत्र के नजदीक से जंगल में दाखिल होते हुआ नजर आए थे, लेकिन अब भोपाल के मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान में पिछले 3 दिन से वन्य प्राणी को लेकर असमंजस अब खत्म हो गया, क्योंकि मैंनिट में टाइगर बाघ ही है इसकी पुष्टि वन विभाग के अधिकारियों ने की है, हालांकि बाघ को वन विभाग रस्यूक नहीं करेगा. विभाग के अधिकारियों का कहना है कि टाइगर अपनी मर्जी से आया है और अपनी मर्जी से ही वापस चला जाएगा.

की जा रही है बाघ की तलाशी
वन विभाग के ट्रैप कैमरे में भी बाघ नहीं दिखा है. बाघ की तलाश लगातार जारी है. वन विभाग के करीब 50 कर्मचारी वहां तैनात हैं. बाघ को लेकर कॉलेज के स्टूडेंट्स में डर का माहौल है. बता दें कि 2 दिन पहले मैनिट कैंपस में बाघ दिखा था. बाघ के गाय पर हमले की सूचना भी सामने आई थी. बाघ की चहलकदमी के बाद कॉलेज प्रबंधन ने छात्रों को बेवजह बाहर नहीं घूमने की हिदायत दी गयी थी. वन विभाग द्वारा चौकसी बढ़ा दी गई गयी है. लगातार गश्त की जा रही है.