December 10, 2022

मध्य प्रदेश की सियासत में शुरू हुआ लेटर वॉर, जीरो टॉलरेंस पॉलिसी पर नेता प्रतिपक्ष ने लगाई सवालों की झड़ी

भोपाल- मध्य प्रदेश विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह (Dr. Govind Singh) ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Chouhan) को पत्र लिखा है. इस पत्र में उन्होंने सरकार द्वारा भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई न करते हुए सिर्फ़ जनता में जीरो टॉलरेंस को लेकर बयानबाजी करने का आरोप लगाया है. साथ ही नेता प्रतिपक्ष ने भिंड जिले के तमाम विभागों में हुए करोड़ों के घोटाले प्रमाणित होने के बाद कलेक्टर द्वारा चुप्पी साधने और पुलिस पर माफियाओं के साथ मिलकर काम करने और अवैध वसूली कराने जैसे गंभीर आरोप भी लगाए हैं.

दरअसल, नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह इन दिनो भिंड प्रवास पर हैं. उन्होंने सीएम शिवराज सिंह चौहान द्वारा लगातार अपने बयानों में जीरो टॉलरेंस की बात कहे जाने पर सवाल उठाया है. नेता प्रतिपक्ष ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि ”आप सिर्फ भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई करने के बारे में घोषणाएं करते हैं दोषियों पर कार्रवाई नहीं करते हैं.”

सीएम पर उठ रहे सवाल
नेता प्रतिपक्ष ने अपने पत्र में लिखा कि “मैं एक वर्ष में दो बार आपको पत्र लिख चुका हूं, पहले भी साल 2020 में गोहद तहसील (भिंड) में ओलावृष्टि से पीड़ित किसानों से गोहद के अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व), तहसीलदार, ट्रेजरी के अधिकारियों, कर्मचारियों ने लगभग 10 करोड़ राशि पात्र किसानों को न देकर लूट ली है, माननीय राजस्व मंत्री ने भी विधानसभा पटल पर किसानों से हुई लूट स्वीकार करने के बाद भी आज तक भ्रष्टाचार के विरूद्ध कार्यवाही न होना आपके वक्तव्यों पर प्रश्न चिन्ह लगाता है.”

वहीं नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने आगे लिखते हुए भिंड कलेक्टर की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा किया है, उन्होंने लिखा कि “जिले में बैठे अधिकारी स्व-सहायता समूहों से खाद्यान्न की कालाबाजारी कराकर प्रत्येक स्व सहायता समूह से प्रतिमाह 10 से 15 हजार रुपये वसूल कर कुपोषण को बढ़ा रहे हैं. आज भिंड जिले के राजस्व, जिला पंचायत, जनपद पंचायत, खनिज, महिला एवं बाल विकास विभाग, खाद्य एवं सामाजिक न्याय विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, पोषण आहार, प्रधानमंत्री आवास एवं मनरेगा योजनाओं के तहत करोड़ों की लूट प्रमाणित होने के बाद भी कलेक्टर भिंड सतीश कुमार एस. चुप्पी साधे हुए बैठे हैं.”

की जा रही है अवैध वसूली
डॉक्टर गोविंद सिंह ने पत्र के जरिए पुलिस पर भी भ्रष्टाचार और अवैध वसूली का आरोप लगाया. उन्होंने लिखा कि “जिले के थाना प्रभारियों द्वारा गिट्टी, पत्थर, रेत खनिज माफियाओं से मिलकर अवैध उत्खनन कराकर लूट की जा रही है. वहीं थाना प्रभारियों द्वारा सादी वर्दी में आरक्षकों से दिनभर रेत, गिट्टी के ट्रकों की गिनती कर प्रति ट्रक 5 हजार से 15 हजार रुपये की अवैध वसूली भी की जा रही है. इसके साथ ही उम्मीद जताई है कि जल्द मुख्यमंत्री अपनी विश्वसनीय एजेंसियों द्वारा उच्चस्तरीय जांच करा कर दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करेंगे.